मित्रो, हिन्दीज्ञान वेबसाइट हिन्दी-पाठ्यक्रम के साथ अपने नए रूप में आप सबके सामने प्रस्तुत है। यह साइट हिन्दी शिक्षकों के साथ-साथ विद्‌यार्थियों के लिए भी लाभकारी है। यहाँ विद्‌यार्थियों को हिन्दी पाठ्यक्रम से संबंधित विभिन्न कविता, कहानी, नाटक, उपन्यास तथा व्याकरण की जानकारी प्राप्त होती है। परीक्षा को ध्यान में  रखते हुए लेखक-परिचय, कठिन शब्दार्थ, पंक्तियों पर आधारित प्रश्नोतर, विस्तृत उत्तरीय प्रश्न आदि का भी समावेश किया गया है जिसका उपयोग कर विद्‌यार्थी अच्छे अंकों के साथ परीक्षा उत्तीर्ण कर पाने में सक्षम हो रहे हैं। शिक्षको के लिए भी विभिन्न पाठों का विश्लेषणात्मक अध्ययन और उनसे जुड़े कई तरह के प्रश्नों के उत्तर खोजने का भी प्रयास किया जा रहा है।हिन्दीज्ञान हिन्दी शिक्षण में आधुनिक तकनीकों के प्रयोग का खुलकर समर्थन करता है और इसके लिए हर संभव प्रयास करता है।

आज पूरी दुनिया के सामने कोरोना विषाणु से मानवता को गंभीर खतरा है। दुनिया  के बड़े-बड़े शहर और  राष्ट्र लॉकडाउन से तो बाहर आ चुके हैं और जीवन की गति को सहज बनाने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं। जहाँ तक शिक्षा-जगत की बात है, विद्यार्थियों की शैक्षणिक गतिविधियों पर कोरोना का व्यापक प्रभाव लक्षित हो रहा है। ऐसी स्थिति में शिक्षा से जुड़ी संस्थाएँ और व्यक्ति अपने-अपने स्तर पर प्रयासरत हैं। हिन्दीज्ञान वेबसाइट-ब्लॉग भी अपनी ज़िम्मेदारी को बखूबी समझता है और हमें आप सबको यह सूचित करते हुए अत्यंत हर्ष हो रहा है कि Hindijyan ने हिन्दी पाठ्यक्रम को ध्यान में रखते हुए हिन्दी शिक्षण-अधिगम प्रक्रिया को सुचारू रूप से अग्रसर बनाए रखने के लिए HINDI ONLINE नाम से एक YouTube Channel की शुरूआत की है। इस चैनल पर कक्षा - 9 से 12 तक के पाठों को ध्यान में रखकर e-Learning तैयार किया जा रहा है। आप सबके सुझाव और प्रतिक्रियाओं से हम लाभान्वित होंगे।


सौमित्र आनंद

संयोजक, हिन्दी ऑनलाइन 

vintage-clean-dark-brown-texture-background
FB_IMG_1589707257015

शिक्षा सतत परिवर्तनशील और प्रगतिशील प्रक्रिया होते हुए भी अपने उदात्त उद्देश्य से कभी भी कोई भी समझौता नहीं करती है और यही कारण है आदिकाल से अत्याधुनिक काल तक शिक्षा का महत्व अक्षुण्ण बना हुआ है| ताड़पत्रों से लेकर ताम्रपत्रों और कागज़ से लेकर ई-बुक तक शिक्षा नित नए-नए कलेवर ढलती रही है और ‘हिंदीज्ञान’ इसी सीखने और सिखाने के इतिहास का एक अध्याय है| ‘सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय’ के कालजयी मंत्र को ‘हिंदीज्ञान’ ने सही मायनों में चरितार्थ करने का सफल प्रयास किया और अनगिनत शिक्षार्थियों तक पहुँचा। संचार-क्रांति ने जहाँ दुनिया को दरवाजे पर खड़ा किया और शिक्षक को एक वैश्विक पटल देने का काम किया वहीं कक्षाओं की चहारदीवारी को भी तोड़ा तथा शैक्षणिक सामग्री को सबके लिए उपलब्ध कराया और निःसंदेह यह कहा जा सकता है कि ‘हिंदीज्ञान’ ने ICSE और ISC के हिंदी पाठ्यक्रम को सबके लिए सुलभ कर इस दिशा में एक अभूतपूर्व योगदान है| आज लाखों विद्यार्थी ‘हिंदीज्ञान’ के इस अप्रतिम और अतुलनीय पहल से लाभान्वित हो रहे हैं और विश्वास से भरी मुस्कान के साथ हमारे साथ खड़े हैं।


बलवंत यादव

सह-संयोजक, हिन्दी ऑनलाइन 

1288325
WhatsApp Image 2021-03-06 at 12.57.29 AM

शैक्षणिक विडिओ

साहित्य सागर - गद्य

बात अठन्नी की

सुदर्शन 

साहित्य सागर - गद्य

काकी

सियारामशरण 

साहित्य सागर - गद्य

महायज्ञ का पुरस्कार

यशपाल  

साहित्य सागर - गद्य

नेता जी का चश्मा

स्वयं प्रकाश  

साहित्य सागर - पद्य

साखी

कबीरदास

साहिय सागर- पद्य

गिरिधर की कुंडलियाँ 

गिरिधर कविराय 

साहित्य सागर - पद्य

स्वर्ग बना सकते हैं

रामधारी सिंह 'दिनकर' 

साहित्य सागर - पद्य

वह जन्मभूमि मेरी

सोहनलाल द्विवेदी 

ऑनलाइन कार्यशाला

 परीक्षा उपयोगी कार्यशाला 

  • Duration: 2 Hour
  • Day: 2
  • No. of Participants: upto 50
Enroll Now
Draft1

श्रेणी: शैक्षणिक

हिन्दी व्याकरण

माध्यम : हिन्दी 

हिन्दीज्ञान आगामी हिन्दी परीक्षा को ध्यान में रखते हुए विद्यार्थियों के लिए परीक्षा उपयोगी ऑनलाइन हिन्दी कार्यशाला का आयोजन करने जा रहा है। इस ऑनलाइन कार्यशाला के द्वारा परीक्षा की तैयारी, पुनरावृत्ति के विविध तरीके, संभावित प्रश्नोत्तर का आँकलन आदि विषयों पर व्यापक चर्चा की जाएगी।

प्रथम  सत्र

1. प्रस्तावना

2. प्रस्ताव-लेखन

3. पत्र-लेखन


द्वितीय सत्र 

1. अपठित गद्यांश

2. व्यावहारिक व्याकरण


तृतीय सत्र

1. संभावित प्रश्नोत्तर पर चर्चा 


चतुर्थ सत्र

1. प्रश्नोत्तर  सत्र 

Draft1

श्रेणी: शैक्षणिक

हिन्दी साहित्य

प्रथम सत्र

1. साहित्य सागर (गद्य) / गद्य संकलन

2. साहित्य सागर (पद्य) / काव्य मंजरी


द्वितीय सत्र

1. एकांकी संचय / आषाढ़ का एक दिन

2. नया रास्ता / सारा आकाश (उपन्यास) 


तृतीय सत्र

1. संभावित प्रश्नोत्तर पर चर्चा


चतुर्थ सत्र

1. प्रश्नोत्तर सत्र

फोटो गैलेरी

हमारे सहयोगी

Aashish Mishra
आशीष मिश्रा

सिंधिया स्कूल

ग्वालियर 

Mansa Mishra
डॉ. मनसा मिश्रा

जे.बी.सी.एन. इंटरनेशनल स्कूल

मुंबई 

Sangita Jaiswal
संगीता जायसवाल

इंडस वैली वर्ल्ड स्कूल

कोलकाता 

Anju Upadhyaya
अंजु उपाध्याय

आदर्श हिन्दी विद्यालय


Preeti Singh
प्रीति सिंह

नेशनल पब्लिक स्कूल

बैंगलोर 


Sarika
सारिका घुलियानी

शिव नादर स्कूल

नोएडा, नई दिल्ली 


Archana Ojha
अर्चना ओझा

लोरेटो डे स्कूल

कोलकाता 

Ranjana Dubey
रंजना दुबे

द हेरिटेज स्कूल 

कोलकाता 

Sonam Singh
डॉ. सोनम सिंह

हावड़ा शिक्षा सदन

हावड़ा, कोलकाता 

Jyoti Agarwal
ज्योति अग्रवाल

बिरला हाई स्कूल

कोलकाता 

Ritu Mishra
ऋतु मिश्रा

द हेरिटेज स्कूल 

कोलकाता 

Vinita Kumari
विनीता कुमारी

सेंट जोसेफ कॉन्वेंट हाई स्कूल

पटना